जाड़ों का मौसम

जाड़ों का मौसम
मनभावन सुबह

लोकप्रिय पोस्ट

लोकप्रिय पोस्ट

Translate

Google+ Badge

Google+ Followers

लोकप्रिय पोस्ट

शुक्रवार, 8 मई 2015

बरसों पहले का किस्सा !!


आज के दिन की ,
 खुशियों का उपहार आपके लिए  !!
जिनके संग ,
 मेरी कहानी को खुशनुमा अंदाज़ मिले !! 
एक पावन सा ,
चाँदनी से धुला -धुला प्यारा सा साथ  !!!
हर मुश्किल में ,
 लड़खड़ाने से पहले ही थामता वो हाथ  !!
पुराना होकर भी ,
 नई -नई सी लगती है जिसकी हर बात !!
आओ फिर से खोलें ,
जतन से सहेज कर रखी हर सौग़ात  !! 
आज के दिन को,
 जियें ख़्वाबों को फिर उसी शिद्द्त के साथ !!
बरसों  पहले शुरू किया था - - - - - - - - 
जहाँ ये किस्सा हक़ीक़त  का थाम  कर हाथ !!!!

                       * ********  
      

कोई टिप्पणी नहीं: